To The Point Shaad

जल ही जीवन का आधार :-जल स्टार एडवोकेट रमेश गोयल

संघर्षशील कार्यकर्ता — जल स्टार रमेश गोयल, ‘‘वाटर हीरो अवार्डी‘‘


2008 में 60 वर्ष की आयु में जल संरक्षण जागरुकता अभियान किया आरम्भ – राष्ट्रीय स्तर पर बनी पहचान। भारत सरकार जलशक्ति मंत्रालय द्वारा 2020 में ‘‘वाटर हीरो अवार्डी‘‘I 1970 से आयकर व्यवसायी (एडवोकेट)
जल स्टार के नाम से विख्यात रमेश गोयल अब तक देश भर में 400 से अधिक शिक्षण संस्थाओं व अन्य कार्यक्रमों में जा जा कर लाखों विद्यार्थियों, शिक्षकों व जनता को प्रत्यक्ष रूप से तथा टीवी, दूरदर्शन, रेडियो व समाचार पत्रों के माध्यम से लगभग एक करोड़ लोगों को जल बचत हेतु प्रेरित कर चुके हैं और यही अब जीवन का लक्ष्य एवं मिशन है। ‘‘बिन पानी सब सून‘‘ पुस्तक का विमोचन 8 मई, 2010 को हरियाणा के राज्यपाल श्री जगननाथ पहाडिया द्वारा किया गया। 6000 प्रतियां प्रकाशित।
‘‘जल चालीसा‘‘ अप्रैल 2012 में हरियाणा के मुख्यमन्त्री श्री हुडा द्वारा विमोचन। अब तक 60 हजार प्रतियां प्रकाशित। निशुल्क वितरित। विडियो का विमोचन उड़ीसा के राज्यपाल प्रो.गणेशी लाल ने सितम्बर 2018 में किया था। केन्द्र सरकार की पत्रिका ‘‘जल चर्चा’’ सहित अनेक पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित। डीडी न्यूज व डीडी किसान द्वारा अगस्त 2015 में विशेष चर्चा।
विज्ञप्तियां – अब तक 3.4 लाख विज्ञप्तियां विद्यार्थियों व संस्थाओं के माध्यम से घर/परिवारों में पहुंचा चुके हैं।
जल मनका: जल संरक्षण हेतु 2020 मे रचित 108 चौपाईयों वाला ‘‘बचाना होगा निश्चित जल‘‘ जल मनका प्रकाशनाधीन
क्यों और कैसे बचायें जलः विस्तृत जानकारी सहित पुस्तक प्रकाशनाधीन
बैनर/फलैक्स- 2ग्3 फुट के 1500 से अधिक प्रेरक बैनर देश भर में शिक्षण संस्थानों, व सार्वजनिक स्थानों पर लगवा चुके हैं।
दूरदर्शन नैशनल, डीडी न्यूज, डीडी किसान, जी टीवी व अनेक टीवी चैनलों पर जल सम्बन्धी चर्चा व लाइव प्रोग्राम 2010 से निरन्तर….लगभग 20 कार्यक्रम।
दिल्ली विश्वविद्यालय, चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय, सहित अनेक संस्थाओं के राष्ट्रीय अधिवेशनों में मुख्य वक्ता।
2020-21 में देश भर के जल संरक्षण पर लगभग 30 वैबनार कार्यक्रमों में मुख्य वक्ता।
अनेक स्थानों पर वर्षा जल सग्रहण सिस्टम लगवाये हैं।
राष्ट्रीय सामाजिक संस्था भारत विकास परिषद्, जिसकी भारत में 1700 शाखाएं हैं, में अप्रैल 2006 से मार्च 2020 तक केन्द्रीय टीम में रहे और राष्ट्रीय मन्त्री पर्यावरण तक दायित्व निभाया हैं। राष्ट्रीय सामाजिक संस्था ‘‘ पर्यावरण प्रेरणा‘‘, जिसकी 9 प्रान्तों में शाखाएं हैं, के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं।
प्रतिष्ठित आयकर व्यवसायी तथा वरिष्ठ नागरिक ‘‘जिला प्रशासन’’ व ‘‘ह.प्रा. हिन्दी साहित्य सम्मेलन’’ के अतिरिक्त ‘‘जल स्टार अवार्ड‘, ‘‘डायमंड आफ इंडिया अवार्ड’’, सोशल जस्टिस बैस्ट मैन अवार्ड’, जैम आफ इंिडया अवार्ड, श्री चित्रगुप्त सम्मान 2017, राष्ट्र रत्न अवार्ड-2018, आउट स्टैंडिंग अवार्ड 2018 तथा सारथी जल योद्धा सम्मान 2018 व अग्र रत्न अवार्ड 2018 से सम्मानित तथा भारत रत्न डा0 अब्दुल कलाम राष्ट्र निर्माण अवार्ड 2018 के लिए चयनित, सिरसा गौरव (सित. 2019) से सम्मानित।
ऽ दसवीं में पढते हुए (1963-64) में आठवीं श्रेणी के छात्रों को ट्यूशन पढ़ाई।
ऽ 1965 से 1970 के बीच पारिवारिक आय बढ़ाने के दृष्टीकोण से कलैण्डर व एल्युमिनियम नाम पट्टिकाओं के बुकिंग एजेन्ट के रूप में भी काम किया तथा लाटरी टिकटें भी बेची।
ऽ दिन में कोर्ट में ओपन टाइपिंग व अन्य कामों के साथ साथ 1968-69 में नेताजी सुभाष बोस प्रतिमा के लिए चन्दा मांगते व शाम को सांध्यकालीन कालिज में जाते।

ऽ नाम ः रमेश चन्द्र गोयल
ऽ शिक्षा ः कला, वाणिज्य व विधि स्नातक
ऽ आयु ः 72 वर्ष (जन्म तिथी 23.10.1948)
ऽ व्यवसाय ः आयकर, ट्रस्ट, सोसायटीज व जीएसटी सलाहकार (अधिवक्ता)
ऽ पता ः 20,आर.एस.डी.कलोनी,सिरसा-125055 (हरियाणा): 01666-221757
जी-114, फेज 1,ग्राउंड फलोर, अशोक विहार दिल्ली-110052
मो. 094160-49757
bZesy&rameshgoyalsrs@gmail.com rameshgoyalsrs@rediffmail.com
oSc& www.facebook.com/ramesh.goyal.52 www.savewatersavelife.com
Facebook page: www.facebook.com/rameshgoyalsrs
www.paryavaranprerana.com

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *