To The Point Shaad

My Work

Essay Writing Principles

It’s not uncommon affordable papers review at trustpilot for essay topics to be marginally different from 1 person to the following. Generally , people may have corresponding interests and are encouraged to tailor their documents in a means that best suits their individual

Dil se..चौथी कक्षा के विद्यार्थी ने वीडयो के माद्यम से आपने शिक्षकों के प्रति रखे मन के भाव

लक्षयदीप सिंह (कक्षा चौथी, वुड स्टॉक स्कूल, बटाला) अपने आदरणीय अध्यापकों का सम्मान करता है कि कॅरोना वायरस के चलते हुए भी वह बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए ऑनलाइन क्लासेज में बहुत मेहनत कर रहे हैं।हमें अपने अध्यापकों का दिल से सम्मान करना चाहिए। ज़िन्दगी ज़िंदाबाद ।।Directed by Manjinder Sandhu, Batala

सेवा संकल्प ओर जागरूकता की अनूठी मिसाल :-जनाब कृष्ण कायत

गांव अबूबशहर के सरकारी स्कूल में अध्यापक हैं कृष्ण कुमार कायत, शाम को निशुल्क कोचिंग क्लासिज लगाते हैं उनके विद्यार्थी हर्ष पंवार केंद्रीय विद्यालय अरूणाचल में पीआरटी शिक्षक नियुक्त हैं, तो शंकर लाल केंद्रीय विद्यालय चेन्नई में पीआरटी शिक्षक हैं। बरखा हरियाणा पुलिस में कांस्टेबल कार्यरत है तो वहीं प्रवीण बूमरा दिल्ली में स्पेशल एजुकेशन …

सेवा संकल्प ओर जागरूकता की अनूठी मिसाल :-जनाब कृष्ण कायत Read More »

हम सब का एक ही सपना हरा भरा हो शहर आपना

‘हम सब एक हैं’ के नारों से गूंजा रामबाग मार्गअग्रवाल युवा संगठन ने पेश की नई मिसाल ‘इरादे कुछ बेहतर करने के’ के सलोग्न को सार्थक करते हुए शहर की विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के साथ किया पौधारोपण डबवाली। ‘इरादे कुछ बेहतर करने के’ के स्लोग्न को लेकर मजबूत इरादों के साथ शहर में पौधा रोपण …

हम सब का एक ही सपना हरा भरा हो शहर आपना Read More »

ਸਵੈ ਪ੍ਰੇਰਨਾ “ਅਜੇ ਬੋਟ ਤੋਂ ਪੰਛੀ ਹੋਏ ਖੰਭ ਤਾਂ ਅਜੇ ਖਿਲਾਰਾਂਗੇ,ਲੈ ਕੇ ਹਵਾ ਤੋਂ ਹੌੰਸਲੇ ਉੱਚੇ ਅੰਬਰੀਂ ਉਡਾਰੀ ਲਾਵਾਂਗੇ”…….ਜਸਵਿੰਦਰ ਕੌਰ

ਸਵੈ ਪ੍ਰੇਰਨਾ“ਅਜੇ ਬੋਟ ਤੋਂ ਪੰਛੀ ਹੋਏ ਖੰਭ ਤਾਂ ਅਜੇ ਖਿਲਾਰਾਂਗੇ,ਲੈ ਕੇ ਹਵਾ ਤੋਂ ਹੌੰਸਲੇ ਉੱਚੇ ਅੰਬਰੀਂ ਉਡਾਰੀ ਲਾਵਾਂਗੇ”ਜੇਕਰ ਬੰਦੇ ਅੰਦਰ ‘ਸਵੈ ਵਿਸ਼ਵਾਸ’ ਦਾ ਬੀਜ ਹੈ ਤੇ ਉਹ ਇਸ ਨੂੰ ‘ਸਵੈ ਪ੍ਰੇਰਨਾ’ ਦਾ ਪਾਣੀ ਵੀ ਦਿੰਦਾ ਹੈ ਤਾਂ ਉਹਦੇ ਅੰਦਰ ‘ਜ਼ਿੰਦਾਦਿਲੀ’ ਦੇ ਫੁੱਲ ਜ਼ਰੂਰ ਖਿੜਦੇ ਨੇ !ਸਵੈ ਪ੍ਰੇਰਨਾ ਏ ਸਾਡੇ ਆਪਣੇ ਅੰਦਰ ਦੇ ਜਜ਼ਬੇ ਤੇ ਜਨੂੰਨ …

ਸਵੈ ਪ੍ਰੇਰਨਾ “ਅਜੇ ਬੋਟ ਤੋਂ ਪੰਛੀ ਹੋਏ ਖੰਭ ਤਾਂ ਅਜੇ ਖਿਲਾਰਾਂਗੇ,ਲੈ ਕੇ ਹਵਾ ਤੋਂ ਹੌੰਸਲੇ ਉੱਚੇ ਅੰਬਰੀਂ ਉਡਾਰੀ ਲਾਵਾਂਗੇ”…….ਜਸਵਿੰਦਰ ਕੌਰ Read More »

ज़िन्दगी हुनर कला व साहित्य का एक नया नाम Sahil Oneness …

डबवाली शहर में कला की कोई कमी नही है वर्तमान दौर में युवा वर्ग अपनी कला को रोजी रोटी का साधन भी बना रहे है,और मेहनत लगन रियाज से कला प्रेमियों के दिल पर राज भी करने लगे है उन्ही में से एक नया नाम है Sahil Oneness … ज़िन्दगी के रंग मंच का एक …

ज़िन्दगी हुनर कला व साहित्य का एक नया नाम Sahil Oneness … Read More »

आईना सी है ज़िन्दगी, तू मुस्कुरा, और ये ज़िन्दगी भी मुस्कुरा देगी! क्यों रोता है कि कुछ मिला नहीं ? तू मांग तो सही, ज़िंदगी इतना देगी!